Showing posts with label Tech. Show all posts
Showing posts with label Tech. Show all posts

Tuesday, May 19, 2020

Hard disk Defragment and Optimization in Hindi - कैसे हार्ड ड्राइव को डीफ़्रैग्मेन्ट और ऑप्टिमाइज़ करें

 Hard disk Defragment and Optimization in Hindi - कैसे हार्ड ड्राइव को डीफ़्रैग्मेन्ट और ऑप्टिमाइज़ करें


क्या आपके पीसी की हार्ड ड्राइव आपको दर्द भरे लंबे समय तक कठनाई दे रही है? हार्ड ड्राइव को भी Optimization की आवश्यकता होती है विशेष रूप से SATA ड्राइव को जो data को save करते समय डेटा को टुकडो में सेव करता  हैं। Fragmentation मूल रूप से तब होता है जब ड्राइव डेटा को स्टोर करने के लिए खाली स्टोरेज स्लॉट का उपयोग करते हैं और यह आपके ड्राइव के प्रदर्शन पर Nagetive प्रभाव डाल सकता है। लेकिन यहाँ कुछ steps दिए गए हैं जिनका पालन करके आप SATA Drive की जांच कर सकते हैं और विंडोज 10 पर अपनी हार्ड ड्राइव को Optimization कर सकते हैं।

कैसे हार्ड ड्राइव को डीफ़्रैग्मेन्ट और ऑप्टिमाइज़ करें (How to Defragment and Optimize Hard Drive)

  1. स्टार्ट मेन्यू खोलें और सर्च बार में डीफ्रैग टाइप करें। आगे बढ़ने के लिए Defragment और Optimize ड्राइवेज़ैप पर क्लिक करें।
  2. विंडोज 10 पर हार्ड ड्राइव स्वास्थ्य की जांच कैसे करें 
  3. SSD को Defragment नहीं किया जा सकता है क्योंकि उनके पास कोई moving parts नहीं है। एसएसडी पर क्लिक करें और Optimize चुनें ट्रिमिंग प्रक्रिया शुरू करें जो प्रदर्शन में सुधार करने के लिए पूर्व में संग्रहीत डेटा को साफ करती है।
  4. ट्रिमिंग प्रक्रिया को समाप्त होने में कुछ सेकंड लग सकते हैं।
  5. दूसरी ओर, जब आप हार्ड डिस्क ड्राइव या HDD partition पर क्लिक करते हैं तो यह Analyze करने का विकल्प प्रदान करेगा। जारी रखने के लिए उस पर क्लिक करें।
  6. अब आपके दुवारा चुनी गई HDD drive को Analyze करना शुरू कर देगा
  7. यदि विश्लेषण परिणाम स्थिति को ऑप्टिमाइज़ेशन के रूप में प्रदर्शित करता है, तो चयनित विभाजन को डीफ़्रैग्मेन्ट करने के लिए ऑप्टिमाइज़ पर क्लिक करें। आप परिवर्तन सेटिंग का चयन करके इस प्रक्रिया को साप्ताहिक या मासिक आधार पर स्वचालित भी कर सकते हैं।
  8. शेड्यूल मेनू के तहत एक शेड्यूल (अनुशंसित) पर रन के बॉक्स को चेक करें और परिवर्तनों को save के लिए ओके पर क्लिक करें।

चेक डिस्क (CHKDSK) का उपयोग करना ( Use Check Disk { CHKDSK})


  1. विन्डोज़ की + E Button दबाकर फ़ाइल एक्सप्लोरर को खोलें। उस ड्राइव या पार्टीशन पर राइट-क्लिक करें जिसे आप चेक करना चाहते हैं
  2. जारी रखने के लिए Tool टैब पर click करें।
  3. जाँच विज़ार्ड को आग लगाने के लिए चेक विकल्प पर क्लिक करें।
  4. चूंकि आपका पीसी समय-समय पर स्वचालित रूप से चेक डिस्क ऑपरेशन भी कर सकता है, इसलिए यह आपको सूचित करेगा कि आपको इस ड्राइव को स्कैन करने की आवश्यकता नहीं है। जारी रखने के लिए स्कैन ड्राइव का चयन करें।
  5. जाँच प्रक्रिया को पूरा करने में कुछ मिनट का समय लगेगा।

WMIC का उपयोग करना ( Use of WMIC )


  1. स्टार्ट मेन्यू खोलें और सर्च बार में cmd ​​टाइप करें। जारी रखने के लिए कमांड प्रॉम्प्ट पर क्लिक करें।
  2. कमांड WMIC टाइप करें और एंटर दबाएँ।
  3. इनपुट दूसरी कमांड डिस्कड्राइव को स्थिति मिलती है और कमांड को निष्पादित करने के लिए फिर से एंटर दबाएँ।
  4. सिस्टम स्वचालित रूप से आपके विंडोज 10 PC पर सभी हार्ड ड्राइव की स्वास्थ्य स्थिति को OK के रूप में प्रदर्शित करेगा। इसका मतलब है कि ड्राइव अपनी क्षमता पर काम कर रहे हैं।
  5. स्वास्थ्य की जांच करने और विंडोज 10 पर अपनी हार्ड ड्राइव का अनुकूलन करने के लिए ये कुछ सरल कदम हैं। यदि इन सभी परीक्षणों और बताये गये तरीकों को इस्तमाल करते है तो आप कि HDD लम्बे सयम तक चलेगी  हार्ड ड्राइव के साथ किसी भी मुद्दे को प्रतिबिंबित नहीं किया जाता है, तो हो सकता है कि आपकी हार्ड ड्राइव धीमी गति से नहीं चलेगी !

Monday, May 18, 2020

computer hang solution in hindi- कंप्यूटर Windows10/7/8 हैंग समाधान हिंदी में

Computer Hang Solution in Hindi- कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में 

दोस्तों हम जब नया कंप्यूटर या लैपटॉप खरीदते हैं तो वह बहुत ही Smoothly वर्क करता है पर जैसे-जैसे समय बीतता है Computer में Problems आने लगती है जिसमें से एक बड़ी समस्या Computer Hanging की है चलिए जान लेते हैं कि यह समस्या कंप्यूटर में कैसे आती है
computer hang solution in hind,कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में

सबसे पहले हम यह जान लेते हैं कि हैंग( ComputerHanging) का मतलब क्या होता है और इससे किस प्रकार से पहचाना जाता है!

पहचान (Recognize)

Computer Hanging Problems मैं Computer अचानक से चलते चलते रुक जाता है! या फिर Windows के Start होते समय रुक जाता है Computer के Hang होने के एक से ज्यादा कारण हो सकते हैं
computer hang solution in hind,कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में

आज हम आपको इन्हीं कारणों के बारे में बताएंगे जिससे कि आप अपने कंप्यूटर की Hang problems को अपने आप ही सही कर सकेंगे

अगर आप अपने कंप्यूटर को बाजार में सही कराने जाते हो तो वह आपसे बड़ी आसानी से जादा पैसे लेता है पर आज के बाद आप इस समस्या को आसानी से पहचान सकेंगे कि किस कारण यह समस्या हो रही है!

मेरा यह दावा है कि मेरी इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद आपको इस समस्या से संबंधित और किसी पोस्ट को  पढ़ने की कोई आवश्यकता नहीं पड़ेगी

Computer Hang Problems इन सभी कारणों से होती है

  1. Hard Disk
  2. Virus
  3. RAM
  4. Processor Overheating
  5. SMPS

1. Hard Disk

computer hang solution in hind,कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में

समस्या: अगर आपकी Hard disk मैं Bad sector बन चुके हैं तो भी आप को Computer hang की समस्या देखने को मिलेगी!
पहचान: अगर आपकी हार्ड डिक्स में Bad sector बन चुके हैं तो आपका कंप्यूटर बार बार Restart होगा या Blue Error देखने को मिल सकता है इसका मतलब यह होगा कि अब आपके हार्ड डिक्स में Bad sector बन गए हैं!
समाधान: आपको अपने कंप्यूटर में दूसरी हार्ड डिक्स लगा कर देखना चाहिए!

2. Virus

computer hang solution in hind,कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में

समस्या: वायरस भी Computer hang का एक बड़ा कारण है अधिकतर Virus के कारण कंप्यूटर हैंग होता है
पहचान: आप जब Internet का इस्तेमाल कर रहे होते हैं तो अचानक से आपका Web browser Freeze हो जाता है या  कंप्यूटर Unresponsive हो जाता है या फिर Pen Drive का इस्तेमाल करते समय Hang होता है तो यह सारी समस्या वायरस की ओर इशारा करती है!
समाधान: आपको अपने desktop या laptop मैं एक अच्छे Antivirus को Install कर लेना चाहिए!

3.RAM ( Random Access Memory)

computer hang solution in hind,कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में

समस्या: यदि आपके कंप्यूटर में RAM की खराबी है तो भी Hang की समस्या आती है या आपने कंप्यूटर में जो RAM लगा रखी है वह सपोर्ट ही नहीं कर रही है!
पहचान: RAM खराब होने पर कंप्यूटर अचानक से बंद हो जाता है और कंप्यूटर पर Colorfull line दिखने लगेगी और Computer screen के Pixels खराब होने लगते हैं और OS (Opreting System) बार बार Courrpet होने लगता है!
समाधान: आपको अपने Mother board के requirement के अनुसार उसमें DDR2 या DDR3 जो RAM sported हो वहीं नई रैम लगा कर देखनी चाहिए!

4. Processor Over Heat

computer hang solution in hind,कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में

समस्या: प्रोसेसर के गर्म होने के कारण भी Computer बार-बार Restart और Hang होगा और यही Same problem South bridge के Over Heating होने पर भी होती है!
पहचान: Processor के  Fan को बिना  Remove किए नहीं देखा जा  सकता पर South Bridge को छूकर देखा जा सकता है कि वह गरम तो नहीं हो रहा है!
समाधान: आपको प्रोसेसर फैन को हाथ से हिला कर देखना होगा कि कहीं Fan loss तो नहीं हो रहा और आपको प्रोसेसर पर लगने वाले Thermal Paste को भी बदलना होगा!

5. SMPS ( Switched-Mode Power Supply)

computer hang solution in hind,कंप्यूटर हैंग समाधान हिंदी में

समस्या: यदि कंप्यूटर की Power Supply खराब हो रही है या फिर पावर सप्लाई आपके मदरबोर्ड को सपोर्ट नहीं कर रही है जैसे आपके मदरबोर्ड को तो 500 WAT की पावर सप्लाई की जरूरत है लेकिन आपने उसमें 400 वोट की ही पावर सप्लाई लगा रखी है इस तरह की Condition मैं भी आपका Computer Hang होता है!
पहचान: इस तरह की कंडीशन में आपको अपने कंप्यूटर से पावर सप्लाई को बाहर निकालकर चेक करना पड़ेगा !
समाधान: इसके लिए आपको अपने Computer की Requirements के हिसाब से उसमें SMPS (Switched-Mode Power Supply) लगाना चाहिए !

यदि आप को मेरी ये पोस्ट पसंद आई हो तो प्लीज् इस पोस्ट को शेयर और कमेन्ट करना न भूले !

Thursday, April 30, 2020

pen drive repair software- पेन ड्राइव रिपेयर सॉफ्टवेर कैसे काम करता है! और लेटेस्ट RGB पेन ड्राइव कैसी लगती है!

pen drive repair software- पेन ड्राइव रिपेयर सॉफ्टवेर कैसे काम करता है! और लेटेस्ट RGB पेन ड्राइव कैसी लगती है!

जैसा कि आप सभी ने देखा है कि आरजीबी(RGB) लाइट्स देखने में बहुत सुंदर होती है आज सभी कंप्यूटर पार्ट्स में जैसे keyboard, mouse, mice fan आदि सभी आरजीबी लाइट वाले आ रहे हैं जो देखने में बेहद सुंदर और आकर्षक लगते हैं अब आरजीबी(RGB) की आकर्षक सुंदरता आपको पेन ड्राइव में भी देखने को मिलेगी जानिए किस पेनड्राइव(PEN DRIVE) में मिलेगी यह सुविधा!
pen drive repair software,लेटेस्ट RGB पेन ड्राइव कैसी लगती है!
Pen drive
चलिए जानते हैं कि कैसी होगी यह पेनड्राइव और टी फोर्स कंपनी (T-Force Company)ने अपनी पेन ड्राइव में SPARE RGB की सुविधा क्यों जोड़ी है आप लोगों को पता है जब आपके पेन ड्राइव में स्टोरेज की कैपेसिटी फुल हो जाती है  तो आप लोगों को एक message show होने लगता है जिसने बताया जाता है कि आपकी पेनड्राइव की स्टोरेज फुल हो चुकी है और अब आप इसमें और डेटा को स्टोर नहीं कर सकते पर यह message हमें जब show होता है जब पेनड्राइव के स्टोरेज कैपेसिटी एकदम फुल हो जाती है इसी परेशानी को देखते हुए "T-Force Company ने अपनी पेन ड्राइव में आरजीबी (RGB) system को लगाया है जो अलग-अलग रंग दिखाएगी पर इस पेन ड्राइव में अलग-अलग रंगों का अलग अलग ही मतलब होगा जो आपकी डाटा की स्टोरेज कैपेसिटी के हिसाब से होगा जैसे Blue रंग आपको जब देखने को मिलेगा जब आपकी स्टोरेज कैपेसिटी 81/से कम होगी और आपको Yellow रंग तब देखने को मिलेगा जब स्टोरेज कैपेसिटी 81% से  92%होगी 93% स्टोरेज कैपेसिटी पर आपको Red कलर देखने को मिलेगा
pen drive repair software,लेटेस्ट RGB पेन ड्राइव कैसी लगती है!
Pen drive RGB
 Team Group Company ने यह बताया है कि उन्होंने T-SPARK RGB USB Flash drive को इस तरह से डिजाइन किया है की यूजर को इसे यूज करने में किसी भी प्रकार की दिक्कत ना करना पड़े! Company ने अपने USB Drive sliding connector और बिना cap वाला बनाया है जो कि यूजर को ध्यान में रखते हुए design किया गया है
pen drive repair software,लेटेस्ट RGB पेन ड्राइव कैसी लगती है!
Pen drive T-Force
यह आरजीबी लाइट कंप्यूटर geamer और नॉर्मल यूजर दोनों को बहुत ही ज्यादा पसंद आएगी! जैसे ही आप इसे अपने कंप्यूटर या एंड्रॉयड फोन के साथ कनेक्ट करेंगे तभी आप Blue, Red, Yellow लाइट flash होते हुए दिखाई देगी यह usb pen drive आपको कंप्यूटर की डिस्प्ले पर ही current storage systat आसानी से दिखाएगी!

महत्वपूर्ण बिंदु Important Points

pen drive repair software,लेटेस्ट RGB पेन ड्राइव कैसी लगती है!
Old vs New

  1. मॉडल                                   :                         Spark
  2. इंटरफ़ेस                                :                        USB 3.2 gen1 ( 3.0/3.1)
  3. कैपेसिटी                                :                        128gb
  4. कलर                                     :                        ब्लैक
  5. वोल्टेज                                   :                       DC + 5V
  6. वेट                                         :                       25g 
  7. डाटा ट्रांसफर रेट                    :                       रीड:180MB/S Max , राईट:90MB/S Max
  8. आकर्ती                                  :                       60.9(L) * 20.4(W) * 8.6(H)mm
  9. वारंटी                                    :                       आजीवन (life time)
अगर आप भी अपनी खराब pen drive को सही करना चाहते है तो नीचे दिये गये लिंक पर click कर software को डाउनलोड करे

 download

यह भी पड़े !

  1. Bootable Pen drive कैसे बनते है!
  2. नकली (Fake) Pen drive को कैसे पहचाने!
  3. Pen drive क्या है और कैसे काम करती है!


Friday, April 24, 2020

SSD VS HDD Speed : SSD और HDD ड्राइव में क्या अन्तर है और ये कैसे काम करते है इनकी स्पीड कितनी होती है!

SSD VS HDD Speed : SSD  और HDD  ड्राइव में क्या अन्तर है  और ये कैसे  काम करते है  इनकी स्पीड कितनी होती है!

SSD VS HDD Speed
SSD VS HDD 

SSD VS HDD Speed  (SSD  और HDD  ड्राइव में क्या अन्तर है और ये कैसे  काम करते है  इनकी स्पीड कितनी होती है!)

क्या आप लोगों को पता है कि एचडीडी (HDD) वॉइस एसजीडी में से कौन सी कौन सी अच्छी है और आपको अपने काम के मुताबिक कौन सी हार्ड डिक्स खरीदनी होगी कई लोगों को तो यह पता ही नहीं होता की (SSD) और एचडीडी(HDD) में क्या अंतर होता है जिसके कारण कोई भी दुकानदार उन्हें अपने मन मुताबिक ड्राइव  बेच देता है अगर आप भी इन दोनों की पूरी जानकारी चाहते हैं तो हमारे इस पोस्ट को पूरा पढ़ें जिसमें हमने एसएसडी (SSD)और एचडीडी (HDD) की पूरी जानकारी बारीकी से दी है

HDD hard drive कैसे काम करती है

चलो दोस्तों इसे हम आसान तरीके से समझते हैं आप लोगों ने ग्रामोफोन तो देखे ही होंगे जिसमें संगीत को एक आन या इनकी मदद से बजाया जाता था वह आम डेटाकोर रीड करने का काम करती थी जब उसे संगीत की प्लेट पर रखा जाता था और जब उसे ऊपर उस उस को रख दिया जाता था तो प्लेट घूमना चालू कर देती थी और संगीत बजने लगता था इसी प्रकार HDD hard drive भी काम करती है
हार्ड डिस्क में एक प्लेट लगी होती है जो आकार में गोल होती है और इसी के ऊपर एक हैड लगा होता है जो डाटा कोरी डाइट करने का काम करता है जैसा की आप लोगों को पता है कि कंप्यूटर हमेशा बायनरी लैंग्वेज पर काम करता है जो आप इंस्ट्रक्शंस कंप्यूटर को देते हो वह उसे बाइनरी कोड में कन्वर्ट कर देता है इसी प्रकार हमारा डाटा जैसे फाइल्स फोटो वीडियो आदि भी बायनरी में बदल दी जाती है और एचडीडी पर डाटा को बायनरी लैंग्वेज (0 - 1) फॉर्म में सेव कर दिया जाता है

HDD hard disk की स्पीड speed कितनी होती है

SSD VS HDD Speed
SSD VS HDD Part

इसकी स्पीड को हमेशा आरपीएम RPM (Revolution per Minute) मैं मापा जाता है इसका यह मतलब हुआ कि प्लेटर ने 1 मिनट में कितने चक्कर लगाएं ज्यादातर HDD Heard disk 540 RPM से लेकर 7200RPM की होती है अगर आप चाहते हैं कि आपकी रीड राइट की स्पीड भी अच्छी हो तो आपको cache memory पर भी ध्यान देना होगा कैशियर मेमोरी cache memory वह मेमोरी होती है जहां डाटा कुछ समय के लिए ही से होता है जिससे आप Temporary मेमोरी भी कहते हैं HDD Hard disk की cache memory जितनी अच्छी होगी रीड राइट की स्पीड भी उतनी ही अच्छी होगी

आज मैं आप लोगों को एक  बताना चाहता हूं कि हार्ड डिक्स में पाटा PATAऔर साटा SATA हार्ड डिक्स के इंटरफ़ेस होते हैं जहां हम वायर को कनेक्ट करते हैं और इसी आधार पर हार्ड डिस्क को पाटा (PATA)और साटा (SATA) नाम में बांटा गया है आइए इन दोनों के विषय में जानते हैं
SSD VS HDD Speed
SATA HDD

  1. PATA ( Parellel Advenced Technology Attachedment)
  2. SATA (Serial Advenced Technology Attachedment)
 1. PATA : यह सबसे पुरानी Dard disk होती है आईबीएम IBM ने 1986 मैं लांच किया था इसमें PATA Interface होता है इस Hard disk की स्पीड speed 133 mb/s तक होती है इसमें पाटा PATA केबल होती है जो मोटी और एक पट्टे नुमा होती है
2. SATA : यह हार्ड डिस्क Hard disk वर्तमान में चल रही है जिसका यूज हम ज्यादा स्पेस के लिए करते हैं और सेकेंडरी स्टोरेज के लिए भी करते हैं इसमें SATA Interface होता है जिसकी डाटा ट्रांसफर (data transfer) speed 150mb/s से 600 mb/s तक होती है इसमें जो साटा केबल SATA Cable होती है वह काफी पतली होने के साथ-साथ लचीली भी होती है

  1. हार्ड डिस्क के भाग Part of HDD

SSD VS HDD Speed
HDD Part

1. Read/Write head

यह डाटा को read-write करने के काम में आता है यह एक चुंबक होता है जो हेड के ऊपर दाएं से बाएं कि सकता है और डेटा को सूचना को रिकॉर्ड करता है
2. Magnetic Platters
यह हार्ड डिक्स का एक महत्वपूर्ण भाग होता है सारा का सारा डाटा रिकॉर्ड होता है इस पर डाटा लेबल(label) के रूप में रिकॉर्ड होता है और डाटा हमेशा बाइनरी फॉर्म में ही (0 - 1) save होता है जैसा कि आपको पता है कि कंप्यूटर केवल बाइनरी फॉर्म को ही समझता है
3. Actualor arm
इस part को हम arm के नाम से भी जानते हैं क्योंकि यह एक हाथ की शेप(shape) में बना होता है इसी पार्ट की मदद से डाटा को रीड(red) एंड राइट(write) किया जाता 
4. Spindle
यह एक तरह का मोटर होता है जो की प्लेट के बीचो बीच होता है इसी की मदद से प्लेट घूमती है
5. Circuit board
यह प्लेटर से डाटा के शुरुआत को नियंत्रित करता है
6. Connector
सर्किट बोर्ड से read-write डेटा data को लेटर तक पहुंचाता है
7. Logic board
यह हार्ड डिक्स hard disk मैं input और output data को नियंत्रित करता है
8. HSA 
यह रीड (read)राइट (write)आर्म (arm)का पार्किंग एरिया होता है

SSD Drive का परिचय

SSD VS HDD Speed
SSD Drive

SSD Drive (solid SATA drive) कहते हैं यह भी हार्ड डिस्क की तरह ही डाटा को स्टोर करने के काम में आती है पर यह साइज में hard disk से छोटी होती है और इसकी स्पीड भी हार्ड डिक्स से ज्यादा होती है क्योंकि इसमें हार्ड डिस्क की तरह कोई फिजिकल (physical) part नहीं होते

SSD drive कैसे काम करती है

SSD VS HDD Speed
SSD DRIVE INTERFACE

आप सभी जानते हो कि आज हम सभी अपने काम को जल्द से जल्द खत्म करना चाहते हैं ऐसे में हम सभी SSD driveको अपने कंप्यूटर में लगाना ज्यादा पसंद करते हैं क्योंकि यह ड्राइव हार्ड इसकी तुलना में ज्यादा स्पीड देती है यह ड्राइवर राम की भांति ही सेमीकंडक्टर से बनी होती है लेकिन यह एक स्थाई स्टोरेज होती है जिसमें डेटा को स्थाई रूप में सेवsave किया जा सकता है आप जानते हैं कि हम पेन ड्राइव और मेमोरी कार्ड में जिस तरह से डाटा स्टोर करते हैं उसी तरह से एसएसटी(SSD)में भी हम डाटा को Store किया जाता है

SSD Drive के महत्वपूर्ण बिंदु


  1. SSD drive GB और TB दोनों ही स्पेस(space) में आती है
  2. SSD साइज में छोटी और वजन में एचडीडी(HDD) से काफी हल्की होती है
  3. SSD (mb/s) में डाटा को रीड एंड राइट करती है
  4. इसकी लाइफ एचडीडी (HDD)से लंबी होती है क्योंकि इसमें कोई भी मूविंग पाठ (moving part)नहीं होता
  5. SDD भिन्न प्रकार में आती है

SSD के प्रकार

  1. SATA SSD
  2. M.2 SSD
SATA SSD
SSD VS HDD Speed
SATA SSD

एसएसडी 4 टीबी तक की क्षमता के लिए 3 डी एनएंड प्रौद्योगिकी का उपयोग करता है, जिसमें बढ़ाया विश्वसनीयता है। SSD की पिछली पीढ़ियों की तुलना में 25% कम की एक सक्रिय शक्ति की विशेषता है, आप अपने लैपटॉप को रिचार्ज करने से पहले लंबे समय तक काम करने में सक्षम हैं, जबकि अनुक्रमिक पढ़ने की गति 560MB /s और अनुक्रमिक लेखन की गति 530MB /s तक देते हैं गति आप अपने सबसे अधिक कंप्यूटिंग अनुप्रयोगों के लिए चाहते हैं। एक टेराबाइट (टीबी) = एक ट्रिलियन बाइट्स। ऑपरेटिंग वातावरण के आधार पर कुल सुलभ क्षमता भिन्न होती है। | 500GB क्षमता बिंदु पर SSD की पिछली पीढ़ियों की तुलना में अनुक्रमिक रीडिंग के दौरान सक्रिय पावर ड्रॉ 25% तक कम है। | जैसा कि अंतरण दर या इंटरफ़ेस के लिए उपयोग किया जाता है, मेगाबाइट प्रति सेकंड (MB/s) = एक मिलियन बाइट प्रति सेकंड और गीगाबिट प्रति सेकंड (Gb/s) = प्रति सेकंड एक बिलियन बिट्स।
M.2 SSD
SSD VS HDD Speed
M.2 SSD

तेज प्रदर्शन और विश्वसनीयता के लिए आपके रोजमर्रा कि कंप्यूटिंग ज़रूरतों के लिए बढ़ाया भंडारण, डब्लूडी ग्रीन एसएसडी आपके डेस्कटॉप या लैपटॉप पीसी में हर रोज कंप्यूटिंग अनुभव को बढ़ाते हैं। रोजमर्रा कि कंप्यूटिंग के लिए बेहतर प्रदर्शन डब्ल्यूडी ग्रीन एसएटीए एसएसडी से प्रदर्शन को बढ़ावा देने के साथ, आप वेब ब्राउज़ कर सकते हैं, गेम खेल सकते हैं या बस एक फ़्लैश में अपना सिस्टम शुरू कर सकते हैं। और आकस्मिक धक्कों और बूंदों के मामले में आपके डेटा को नुकसान से सुरक्षित रखने में मदद करते हैं। कम शक्ति। अधिक खेल। SSD उद्योग में सबसे कम बिजली खपत करने वाले ड्राइव में से एक हैं और कम बिजली के इस्तेमाल से आपका लैपटॉप अधिक समय तक चलता है। एसएसडी 480 जीबी। ड्राइव। प्रदर्शन अधिकतम रीड ट्रांसफर दर: 545 MB / s ड्राइव इंटरफ़ेस: SATA. ड्राइव इंटरफ़ेस मानक: SATA / 600 पावर विवरण ऑपरेटिंग बिजली की खपत: 2.80 W फार्म फैक्टर: M.2 2280. ऊंचाई: 0.1"। चौड़ाई: 0.9"। गहराई: 3.1"। वजन (लगभग) : 0.23 आउंस। [विविध] समर्थित डिवाइस: डेस्कटॉप पीसी।
SSD drive की कमियां
आप जानते हो कि एसएसडी ड्राइव महंगी होती है जितने में 256 GB की SSD आती है इतने में तो 1TB की हार्ड डिस्क (HDD) आ जाती है यह एक नई टेक्नोलॉजी है शायद इसलिए महंगी है पर जैसे-जैसे SSD का चलन बढ़ेगा वैसे वैसे इसके दामों में भी गिरावट होगी
हमने आपको इस पोस्ट में SSD और HDD के बारे में पूरी जानकारी दे दी है अब आपको अपनी जरूरत के हिसाब से हार्ड डिक्स चुनाव करने में किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा

Saturday, April 18, 2020

Keyboard Short Cut Keys / कीबोर्ड शोर्टकट कीज़ और फंक्शन कीज़

Keyboard Short Cut Keys कीबोर्ड शॉर्टकट कीज़ 

Keyboard Short Cut Keys
Keyboard short cut keys

Keyboard Short Cut Keys कीबोर्ड शोर्टकट कीज़ 

अगर आप भी चाहते है! की आप भी अपना काम बहुत ही जल्दी से पूरा कर सके तो आप को जरूरत होगी कुछ Keyboard Short Cut Keys कि! दोस्तो मै आज आप लोगो को Short Cut Keys के बारे में पुरी जानकारी दूंगा! जिसे आप अपना कम बहुत ही जल्दी खत्म कर सकोगे!
Keyboard Short Cut Keys
Keyboard shortcut keys

Short Cut Keys शार्ट कट कीज़ 

            
  1. Win+e = शो ड्राइव (E, C, D)
  2. Win+L = सिंग आउट pc
  3. Ctrl+P = सेव ऑफलाइन वेब पेज
  4. ALT+F4     =   शटडाउन pc और सॉफ्टवेर बंद करता है!
  5. CTRL+SHIFT+ ESC = ओपन टास्क मैनेजर
  6. ALT+ENTER = ओपन प्रॉपर्टीज सलेक्ट फोल्डर
  7. F12 = अगर आप web पेज की कोडिंग देखना चाहते है!
  8. F1 = ओपन हेल्प सेन्टर विंडो
  9. CTRL+N = ओपन न्यू फाइल
  10. SHIFT+Del = अगर आप किसी फोल्डर को परमानेंट डिलीट करना चाहते!
  11. ALT+ TAB = चेंज tab brower में
  12. WIN+F = विंडो search
  13. WIN+M = Minimize विंडोज
  14. ALT+F = मेनू ओपसन करंट फोल्डर
  15. CTRL  S = सेव फाइल
  16. CTRL+F4 =
  17. CTRL+SHFIT + DELET =     ( Shut down Pc)
  18. WIN+ X =
  19. ALT+LEFT ARROW = बेक पेज
  20. ALT+RIGHT ARROW = आगे का पेज
  21. CTRL+SHIFT = नया फोल्डर बनाना
  22. F2 = फोल्डर का नाम बदलना
  23. F5 = Refresh विंडोज
  24. ALT space R = Restore Tab
  25. ALT space X = मिनीमाइज Tab
  26. ALT space C = कट Tab
Keyboard Short Cut Keys
keyboard shortcut keys

Function key F1 (फंक्शन कीज़)

Function key F1 

  1. जब आप आने कंप्यूटर को स्विच ओन करते है और f1 फंक्शन button को दबाते हो तो आप अपने कंप्यूटर के cmos setting में चले जाते हो जहा पर आप अपने कंप्यूट की setting को चेंज कर सकते हो
  2. अगर आप ने अपना कंप्यूट ओन कर लिया है तो f1 फंक्शन button को दबाने से हेल्प center ओपन हो जाता है जिस में आप अपनी प्रॉब्लम का समाधान माइक्रोसॉफ्ट कम्पनी के दुवारा पा सकते हो!
  3. और आगर आप internet को इस्तमाल कर रहे हो हो इस function key को दबाकर आप ब्राउज़र का हेल्प center ओपन कर सकते हो!
  4. माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में ctrl+f1 button को दबाने से software फुल स्क्रीन mode में चला जाएगा
Function key F2
  1. इस फंक्शन key की मदत से आप किसी भी फाइल या फोल्डर को रीनेम कर सकते हो बस उस फाइल या फोल्डर पर click कर के F2 key को दबाना होगा!
  2. अगर आप माइक्रोसॉफ्ट use कर रहे होतो Alt+Ctrl+F2 को दबाने पर फाइल ओपन बॉक्स खुल जायेगा!
  3. माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में F2 key दबाने से प्रिंट बॉक्स ओपन हो जायेगा!
Function key F3
  1. विंडोज में F3 key दबाने से कंप्यूटर में search बॉक्स ओपन हो जाता है जिस कि मदत से आप अपने फाइल फोल्डर को सर्च कर सकते है!
  2. अगर आप मिक्र्सोफ्त वर्ड use कर रहे है तो shift+F3 key कि मदत से जो अंग्रेजी लैटर अपने सलेक्ट कर रखा है वो uper केस या lower केस में कन्वर्ट हो जायेगा!
Function key F4
  1. अगर आप सभी खोली हुई विंडोज को एक साथ बंद करना चाहते हो तो Alt+F4 का इस्तमाल करे और अगर आप अपने कंप्यूटर को shutdown करने चाहते हो तो भी आप को इसी key का use करना होगा!
  2. विंडोज एक्स्प्लोरर या chrome में भी इस key के दबाने से एड्रेस बार ओपन हो जाता है जिस में आप search कर सकते है!
  3. अगर आप माइक्रोसॉफ्ट में कम कर रहे हो तो ये key दबाने से वोही काम रिपीट हो जायेगा जो काम आप ने अभी-अभी किया है जैसे अभी आप ने कोई शब्द टाइप किया हा तो वो रिपीट हो जायेगा!
Keyboard Short Cut Keys
function keys
Function key F5

  1. इस key का use रिफ्रेस करने के लिए किया जाता है! अगर आप ने कोई फाइल या फोल्डर बनाया है और वो दिख नहीं रहा तो इस key का use कर आप रिफ्रेस कर उसे देख सकते है!
  2. माइक्रोसॉफ्ट वर्ल्ड में इस key का use करके आप find एंड replace ओपसन ओपन कर सकते हो!
  3. और अगर आप power point का use कर रहे हो तो F5 key को दबाकर स्लाइड show को चालू कर सकते हो!
  4. फोटोशोप software में इसे दबाने पर ब्रश टूल के कई सारे ओप्सन सामने आ जाते है!
  5. माइक्रोसॉफ्ट में Shift+F5 दबाने से find एंड replace का ओप्सन ओपन हो जाता है!
Function key F6
  1. इस key को दबाने से विंडोज टास्क बार में सभी फाइल एंड फोल्डर की लिस्ट दिखने लगती है!
  2. अगर माइक्रोसॉफ्ट वर्ल्ड में बुहत सारे डॉक्यूमेंट ओपने हो रखे है तो उन सभी को एक एक कर देखने के लिए Ctrl+Shift+F6 को एक साथ दबाने से आप उन सभी को एक एक कर देख सकते है!
Function key F7
  1. माइक्रोसॉफ्ट वर्ल्ड में अगर आप स्पेल्लिंग को चेक करना कहते हो तो F7 key का use कर सकते हो
  2. अगर आप internet exploer use कर ते होतो इसे दबाने पर कैरट ब्राउज़िंग सुविधा शुरु हो जाए गई इसका इस्तमाल key बोर्ड के जरिये web पेज पर टेक्स सलेक्ट करके आगे पीछे जाने आदि के लिए किया जाता है!
Function key F8
  1. अगर आप F8 को कंप्यूटर स्टार्ट करते सयम दबाकर सेफ mode र कमांड प्रोमोट में जा सकते है!
  2. और अगर आप माइक्रोसॉफ्ट वर्ड को use कर रहे हो तो इस key की मदत से आप tex को सलेक्ट कर सकते हो!
  3. माइक्रोसॉफ्ट में F8 key को दबाने पर मैक्रो तैयार करने की सुविधा शुरु हो जाती है!
Function key F9
  1. अगर आप माइक्रोसॉफ्ट आउटलुक का use करते है तो ईमेल पाने भेजने के लिए इस key का use कर सकते है!
  2. मार्किट में कुछ लैपटॉपो में F9 को दबाकर आप ब्राइटनेस को कम बढती कर सकते हो!
Funciton key F10
  1. माइक्रोसॉफ्ट वर्ल्ड में F10 का use करके विंडो का साइज़ बड़ा घटा सकते हो!
  2. अगर आप किसी सॉफ्टवेर में काम कर रहे हो तो F10 से मेन्यु बार ओपन हो जाता है!
Function key F11
  1. इस key का use internet एक्स्प्लोरर और किसी भी ब्राउज़र में विंडोज को मिनिमिज़ और माक्स्मिज़ करने में use किया जाता है!
  2. माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस में Alt+F11 को एक साथ software में विजुअल बेसिक कोड ओपन हो जाता है!
Function key F12
  1. माइक्रोसॉफ्ट वर्ल्ड में खुला डॉक्यूमेंट Ctrl+Shift+F12 को एक साथ दबाने पर डॉक्यूमेंट प्रिंट हो जाता है!
  2. माइक्रोसॉफ्ट वर्ल्ड में इस key को दबाने के बाद save as बॉक्स ओपन हो जाता है!
 आप चाहते हो इन सभी keyboard short cut  की PDF  तो नीचे dwonload  बटन पर क्लिक करे 
PDF Download
दोस्तों आप पेन ड्राइव क्या है और  RAM क्या है  तो नीच दिये  links पर click कर पाये पुरी जानकारी

  1. पेन ड्राइव bootabl कैसे बनाते है!
  2. नख्ली और असली पेन ड्राइव को कैसे पहचाने 
  3. RAM क्या है और इसकी फुल फॉर्म 
  4. पेन ड्राइव क्या है!

दोस्तों अगर आप को मेरा ये पोस्ट अच्छा लगे तो प्लीज् मेरे पोस्ट को शेयर और लाइक जरुर करे धन्यवाद !

Contact Form

Name

Email *

Message *